Advertisement

Seekhokamao yojana job apply: सीखो कमाओ योजना में नौकरी के लिए ऐसे करें आवेदन

Advertisement

Seekhokamao yojana job apply: सीखो कमाओ योजना में नौकरी के लिए ऐसे करें आवेदन

सीखो कमाओ योजना नौकरी आवेदन: सीखो कमाओ योजना 2022 में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुरू की गई थी। इस योजना के तहत युवाओं को 700 से अधिक कौशल विकास पाठ्यक्रमों में प्रशिक्षित किया जा रहा है। इसके तहत इलेक्ट्रॉनिक्स, इंजीनियरिंग, पर्यटन, यात्रा, रेलवे, आईटीआई आदि जैसे कई कौशल विकास पाठ्यक्रम संचालित किए जाते हैं

 रोजगार योग्य बनाया जा सके।

ट्रेनिंग करने वाले युवाओं को सरकार की ओर से प्रति माह ₹8000 से ₹10000 तक की वित्तीय सहायता भी दी जाती है ताकि वे किसी निजी कंपनी में नौकरी पा सकें। इस योजना के तहत अब तक 100000 से ज्यादा युवा रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं. सीखो कमाओ योजना के तहत युवाओं को सरकारी या निजी संस्थानों में मुफ्त प्रशिक्षण दिया जा रहा है, इसके साथ ही उन्हें सरकार की ओर से मुफ्त भोजन और रहने की सुविधा भी दी जा रही है। ऐसे में जिन उम्मीदवारों ने लर्न अर्न स्कीम के तहत आवेदन किया था, वे अपना लर्न अर्न स्कीम स्टेटस चेक कर सकते हैं।

सीखो कमाओ योजना के तहत युवाओं को प्रशिक्षण देने के लिए 10601 से अधिक निजी या सरकारी संस्थान

ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. ऐसी स्थिति में, प्रशिक्षण के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की पात्रता मानदंड और अन्य मानदंडों की जांच करने के बाद, यदि वे पात्र हैं, तो सीखो कमाओ योजना के तहत पात्र उम्मीदवारों की एक सूची जारी की जाती है, जिसकी जांच करने के लिए युवाये सीखो सूची बनाई जा सकती है।

कमाओ योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर सीखो कमाओ योजना की स्थिति ऑनलाइन जांचें। यदि उसका नाम इस सूची में आता है तो वह लर्न अर्न योजना के तहत प्रशिक्षण लेने के लिए पात्र होगा।

सीखो कमाओ योजना नौकरी आवेदन करें

सीखो कमाओ योजना के तहत कई कोर्सों का प्रशिक्षण मुफ्त में दिया जाता है जैसे इंजीनियरिंग इलेक्ट्रॉनिक्स सिविल होटल मैनेजमेंट अकाउंटेंट बैंकिंग फोटोग्राफर कंप्यूटर ब्यूटीशियन असिस्टेंट स्क्रीन प्रिंटिंग सॉफ्टवेयर डेवलपर मोबाइल रिपेयरिंग फोटोग्राफर इंश्योरेंस आईटीआई टूर एंड ट्रैवल्स आदि

और भी कई प्रशिक्षण कोर्स हैं जो कि दिए जाते हैं। सीखो कमाओ योजना के तहत युवाओं को। इस कोर्स को पूरा करने के बाद युवाओं को कोर्स से संबंधित सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।

सीखो कमाओ योजना के लिए पात्रता मानदंड

सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण पाने के लिए निम्न एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया का होना आवश्यक है।

  • आवेदक मध्य प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक पहले से किसी नौकरी में नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक को कम से कम 10वीं बोर्ड पास होना चाहिए।

सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित आवश्यक दस्तावेज का होना आवश्यक है।

  • 10वीं बोर्ड की मार्कशीट
  • 12वीं बोर्ड की मार्कशीट
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • आईटीआई या डिप्लोमा सर्टिफिकेट
  • बैंक के खाते का विवरण
  • आधार कार्ड

सीखो कमाओ योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

सीखो कमाओ योजना के तहत आवेदन करने के लिए आप सीखो कमाओ योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं या नीचे दिए गए चरणों का पालन करके आवेदन कर सकते हैं।

लर्न अर्न स्कीम के तहत निःशुल्क प्रशिक्षण और वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए लर्न अर्न स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट mmsky.mp.gov.in पर जाएं।

  • अब होम पेज पर न्यू रजिस्ट्रेशन विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब यहां आप नाम, जन्मतिथि, योग्यता, पता आदि पूछी गई जानकारी दर्ज करके सबमिट करें।
  • अब यहां मांगे गए मूल दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करें।
  • इस प्रकार आपका आवेदन सीखो कमाओ योजना के अंतर्गत पूरा हो जायेगा।

सीख कमाओ योजना की स्थिति कैसे जांचें?

  • अगर आपने सीखो कमाओ योजना के तहत आवेदन किया है तो योजना की स्थिति जांचने के लिए आप सीखो कमाओ योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर वहां से स्थिति की जांच कर सकते हैं।
  • सीखो कमाओ योजना की स्थिति जांचने के लिए सबसे पहले सीखो कमाओ योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब होम पेज पर सीखो कमाओ योजना स्टेटस 2023 के विकल्प पर क्लिक करें।
    अब यहां रजिस्ट्रेशन नंबर, जन्म तिथि और कैप्चा हल करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर सीखो कमाओ योजना की स्थिति दिखाई देगी कि आप पात्र हैं या नहीं।
  • यदि आप पात्र हैं तो सीखो काम योजना के तहत निःशुल्क प्रशिक्षण ले सकते हैं और वित्तीय सहायता भी प्राप्त कर सकते हैं।
सीखो कमाओ योजना के तहत मध्य प्रदेश के युवाओं को कौशल विकास पाठ्यक्रम निःशुल्क प्रदान किया जाता है,

इसके साथ ही युवाओं को 8000 से ₹10000 तक की वित्तीय सहायता भी दी जाती है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद युवाओं को प्रशिक्षण से संबंधित एक प्रमाण पत्र भी दिया जाता है ताकि वे किसी भी निजी या सरकारी संस्थान में नौकरी के लिए आवेदन कर सकें। इस योजना से राज्य के 50,000 से अधिक युवा लाभान्वित हुए हैं और बेरोजगार हो गये हैं.

 

Leave a Comment

x